देशपटनाबिहारहेल्थ

जिलाधिकारी डॉ चंद्रशेखर सिंह द्वारा कोविड कोषांग के अधिकारियों के साथ बैठक कर टेस्टिंग ,वैक्सीनेशन ,सरकारी/ प्राइवेट अस्पताल में बेड की संख्या, ऑक्सीजन बेड ,वेंटीलेटर बेड, आईसीयू बेड की तैयारी की समीक्षा की गई।

जिलाधिकारी डॉ चंद्रशेखर सिंह द्वारा कोविड कोषांग के अधिकारियों के साथ बैठक कर टेस्टिंग ,वैक्सीनेशन ,सरकारी/ प्राइवेट अस्पताल में बेड की संख्या, ऑक्सीजन बेड ,वेंटीलेटर बेड, आईसीयू बेड की तैयारी की समीक्षा की तथा सभी अनुमंडल मुख्यालय में न्यूनतम 50 बेड की तैयारी सभी आवश्यक सुविधाओं के साथ सुनिश्चित करने का निर्देश दिया ताकि आवश्यकतानुसार उपयोग किया जा सके।

समीक्षा में पाया गया कि डेडिकेटेड कोविड हेल्थ केयर सेंटर मै कुल 1602 बेड उपलब्ध हैं जिसमें से 264 बेड कार्यरत है तथा 8 व्यक्ति भर्ती हैं। पाटलिपुत्र स्पोर्ट्स कंपलेक्स में 112 बेड है जिसमें 7 व्यक्ति तथा होटल पाटलिपुत्र अशोक में 152 बेड है जिसमें 1 व्यक्ति भर्ती है। एक्टिव मरीजों की संख्या 6592 है जिसमें 120 व्यक्ति अस्पताल मे भर्ती हैं। भर्ती व्यक्तियों में से 5% लक्षण वाले तथा शेष 95% व्यक्ति बिना लक्षण वाले हैं। हॉस्पिटलाइजेशन की दर मात्र 1.82% है। अनुमंडलीय अस्पताल बाढ़ मे 60 बेड की क्षमता है जिसमें 30 बेड को कोविड डेडीकेटेड तैयार अवस्था में रखने का निर्देश दिया गया। इस अस्पताल में 35 बेड पर ऑक्सीजन पाइप की आपूर्ति की व्यवस्था है। पटना सिटी के कंगन घाट में 200 बेड का डेडीकेटेड कोविड हेल्थ केयर सेंटर का शुभारंभ 13 जनवरी को किया जाएगा। इसकी तैयारी सुनिश्चित करने का निर्देश दिया गया। मसौढी मैं 25 आइसोलेशन बेड तैयार अवस्था में है दानापुर में 50 बेड ऑक्सीजन सिलेंडर के साथ उपलब्ध है। पालीगंज के नए भवन में 50 बेड की तैयारी पेयजल शौचालय बिजली की व्यवस्था के साथ तैयार अवस्था में रखने का निर्देश दिया गया ताकि आवश्यकता पड़ने पर उपयोग हो सके। जिलाधिकारी ने शहरी क्षेत्र में टेस्टिंग की गति तेज करने का निर्देश दिया।

प्राइवेट हॉस्पिटल की समीक्षा में पाया गया कि 90 प्राइवेट हॉस्पिटल मे 2219 बेड उपलब्ध है जिसमें 1209 ऑक्सीजन सिलेंडर तथा 342 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर की व्यवस्था है।

जिलाधिकारी ने नगर निगम के 18 वाहन /मशीन से रूट प्लान के अनुसार सैनिटाइजेशन करने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि जिस सेंटर पर सैंपल कलेक्शन अथवा वैक्सीनेशन का कार्य जारी है वहां प्रतिदिन सैनिटाइजेशन का कार्य करें। इसके साथ-साथ सब्जी मंडी, वार्ड, गली मोहल्ला, तथा ज्यादा संक्रमण वाले क्षेत्रों में भी अभियान चलाकर सैनिटाइजेशन का कार्य सुनिश्चित करने का निर्देश दिया। इसके लिए प्रत्येक दिन का रूट प्लान तैयार करने तथा टीम गठित कर तैनाती करने का निर्देश दिया।

वैक्सीनेशन कार्य की समीक्षा में पाया गया कि जिले के 720 स्कूलों में से 476 स्कूल को टीकाकरण से आच्