क्राइमछपरादेशपटनाबिहार

सोनपुर बैंक लूट और गार्ड की हत्या मामले का पर्दाफाश, बंगाल जेल में रची गई थी बैंक लूट की साजिश; 5 अपराधी हुए गिरफ्तार

पटना :- बिहार पुलिस मुख्यालय एडीजी जे एस गैंगवार ने प्रेस वार्ता कर सोनपुर पंजाब नेशनल बैंक में विगत जवानों की हत्या कर लूट कांड का सारण पुलिस ने उद्भेदन कर दिया है। इसकी जानकारी देते हुए बिहार पुलिस मुख्यालय अपर पुलिस निर्देशक जितेंद्र सिंह गैंगवार ने जानकारी ने देते हुए बताया कि तीन आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया गया है। उन्होंने बताया कि घटना को गम्भीरता से लेते हुए उन्होंने एक SIT का गठन किया था। अनुसंधान के क्रम में यह बात प्रकाश में आई कि दिनांक 27 फरवरी को लखीसराय जिलान्तर्गत ग्रामीण बैंक में इसी गैंग के सदस्यों द्वारा लूट की घटना को अंजाम दिया गया था। तदोपरान्त लखिसराय पुलिस के साथ संयुक्त कार्रवाई करते हुए तकनिकी एवं अन्य माध्यम से घटना का उद्भेदन किया गया।

उन्होंने बताया कि सोनपुर पीएनबी में लूट के लिए बैंक में घुसे 05 अपराधियों में से दो अपराधी क्रमशः बेगुसराय जिला के साहेबपुर कमाल थाना निवासी मो सलीम का पुत्र मो जिशान और वहीं का बाशिंदा मो दाऊद का बेटा मो मुमताज शामिल थे। जबकि तीसरा अपराधी मुंगेर जिला के कासिम बाजार थाना निवासी नवल यादव का पुत्र सुजीत कुमार को गिरफ्तार किया गया है। जिशान एवं मुमताज को सोनपुर SIT ने बेगुसराय से एंव सुजीत को लखीसराय पुलिस द्वारा हरियाणा से गिरफ्तार किया गया।

वही, बैंक में घुसे इन 03 अपराधियों के अलावा इस षडयंत्र में शामिल एवं घटना में संलिप्त अनिश झा उर्फ बन्टी उर्फ रॉकी को सोनपुर SIT व STF ने मधुबनी से गिरफ्तार किया वह अरेर थाना के ओमप्रकाश झा का पुत्र है जबकि कुन्दन कुमार कुन्दन कुमार को लखीसराय पुलिस ने मुंगेर से गिरफ्तार किया। वह कासिम बाजार थाना के हेरू दियारा निवासी दिनेश यादव का पुत्र है। अनुसंधान के क्रम में यह बात प्रकाश में आई है कि इस गिरोह का सरगना वैशाली जिला का रहने वाला एक अपराधी है। जो वर्तमान में बंगाल के जेल में बंद है एवं वहीं से गिरोह का संचालन कर रहा है। उल्लेखनीय है कि ये सभी अपराधी लखीराराय ग्रामीण बैंक लूट में भी शामिल थे। यह भी उल्लेखनीय है कि इस गिरोह द्वारा बैंक लूट के बाद सोनपुर में एक व्यवसायी के अपहरण एवं हत्या करने की योजना भी बनाई जा रही थी। पुलिस ने घटना में प्रयुक्त 01 पिस्टल एवं 03 जिंदा कारतूस और लूटी गई राशि में से 50,000 रूपये भी बरामद किया है।

एसपी डॉ मंगला ने कहा कि घटना में शामिल अन्य अपराधियों की गिरफ्तारी एवं लूटी गई शेष राशि की बरामदगी हेतु कार्रवाई जारी है। उन्होंने बताया कि इस कांड के उद्भेदन में सोनपुर SIT के अलावा लखीसराय पुलिस , वैशाली पुलिस, बेगुसराय पुलिस, STF एवं अन्य का भी योगदान रहा। सभी गिरफ्तार अपराध कर्मियों को लखीसराय थाना कांड संख्या- 145 / 23 में अग्रसारित किया जा रहा है एवं सोनपुर थाना कांड रा०-269 / में रिमांड किया जाएगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *