Breaking Newsदेशपटनाबिहार

जनता के दरबार में मुख्यमंत्री: CM नीतीश ने सुनी 73 लोगों की समस्याएं, अधिकारियों को दिए आवश्यक दिशा निर्देश

पटना :- मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सोमवार को जनता के दरबार में लोगों ने फरियाद सुनी। उन्होंने अलग-अलग जिलों से पहुंचे 73 लोगों की समस्याओं को सुना और संबंधित विभागों के अधिकारियों को समाधान के लिए समुचित कार्रवाई के निर्देश दिए। आज जनता के दरबार में मुख्यमंत्री कार्यक्रम में सामान्य प्रशासन विभाग, गृह विभाग, राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग, मद्य निषेध, उत्पाद एवं निबंधन विभाग, निगरानी विभाग, खान एवं भू-तत्व विभाग, शिक्षा विभाग, निर्वाचन विभाग, मंत्रिमंडल सचिवालय विभाग, संसदीय कार्य विभाग, स्वास्थ्य विभाग, समाज कल्याण विभाग, पिछड़ा एवं अति पिछड़ा वर्ग कल्याण विभाग, वित्त विभाग, अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति कल्याण विभाग, अल्पसंख्यक कल्याण विभाग, विज्ञान एवं प्रावैधिकी विभाग, सूचना प्रावैधिकी विभाग, कला, संस्कृति एवं युवा विभाग, श्रम संसाधन विभाग तथा आपदा प्रबंधन विभाग से संबंधित मामलों पर सुनवाई हुयी।

जनता के दरबार में मुख्यमंत्री कार्यक्रम में नवादा जिले से आए एक युवक ने मुख्यमंत्री से आग्रह करते हुए कहा कि मेरे पिता जी गृह रक्षा वाहिनी में कार्यरत थे और उनका देहांत हो गया है उसके बाद परिवार को जो सुविधाएं उपलब्ध करायी जानी चाहिए वो अब तक नहीं उपलब्ध करायी गई है। अनुकंपा पर नौकरी भी नहीं मिली है, जिससे पूरा परिवार आर्थिक तंगी का दंश झेल रहा है। मुख्यमंत्री ने संबंधित विभाग से जांचकर उचित कार्रवाई करने का निर्देश दिया। पूर्णिया जिले से आए एक व्यक्ति ने मुख्यमंत्री से गुहार लगाते हुए कहा कि भू-हदबंदी के तहत जमीन का सारा कार्य पूर्ण होने के बाद वर्ष 2013 से अब तक उचित कार्रवाई नहीं हो रही है जिससे काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। वहीं पूर्णिया जिले से ही आए एक बुजुर्ग फरियादी ने गुहार लगाते हुए कहा कि मेरी जमीन पर कुछ लोगों द्वारा कब्जा कर समस्या उत्पन्न किया जा रहा है। इसकी शिकायत किए जाने के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है। मुख्यमंत्री ने संबंधित विभाग को जांचकर उचित कार्रवाई करने का निर्देश दिया।

वही, पश्चिम चंपारण जिले से आए एक फरियादी ने गुहार लगाते हुए मुख्यमंत्री से कहा कि मेरे परिवार के एक आदमी की साजिश के तहत हत्या कर दी गई है। केस दर्ज है उसके बाद भी किसी प्रकार की कोई कार्रवाई नहीं हो रही है। वहीं पश्चिम चंपारण जिले से ही आए एक अन्य फरियादी ने मुख्यमंत्री से आग्रह करते हुए कहा कि साइबर क्राइम के तहत उसके सेंट्रल बँक आकाउंट से 80 हजार रुपए उड़ा लिए गए हैं। मामला दर्ज कराए जाने के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं हो रही है। इसी जिले से आये एक अन्य फरियादी ने कहा कि मेरे निजी जमीन पर दबंगों द्वारा कब्जा कर कचड़ा फेंका जा रहा है। इस संबंध में संबंधित अधिकारी से गुहार लगाने के बाद भी अब तक कोई कार्रवाई नहीं हो रही है। मुख्यमंत्री ने पुलिस महानिदेशक को समुचित कार्रवाई करने का निर्देश दिया।

लखीसराय जिले से आए एक फरियादी ने गुहार लगाते हुए कहा कि थाना में अपने मामले को लेकर जा रहे हैं लेकिन प्राथमिकी दर्ज नहीं की जा रहा है। इससे मुख्यमंत्री ने पुलिस महानिदेशक को जांचकर उचित कार्रवाई करने का निर्देश दिया।अररिया जिले से आए एक फरियादी ने मुख्यमंत्री से गुहार लगाते हुए कहा कि उनके पुश्तैनी जमीन को दबंगों द्वारा कब्जा कर लिया गया है। इसकी शिकायत किए जाने के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है। मुख्यमंत्री ने संबंधित विभाग को जांचकर उचित कार्रवाई करने का निर्देश दिया।

जनता के दरबार में मुख्यमंत्री कार्यक्रम में वित्त, वाणिज्य कर एवं संसदीय कार्य मंत्री विजय कुमार चौधरी, खान एवं भूतत्व मंत्री डॉ० रामानंद यादव, मद्य निषेध, उत्पाद एवं निबंधन मंत्री सुनील कुमार, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव दीपक कुमार, मुख्य सचिव आमिर सुबहानी, पुलिस महानिदेशक आर०एस० भट्टी, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव डॉ० एस० सिद्धार्थ, संबंधित विभागों के अपर मुख्य सचिव / प्रधान सचिव / सचिव, मुख्यमंत्री के सचिव अनुपम कुमार, मुख्यमंत्री के विशेष कार्य पदाधिकारी गोपाल सिंह, पटना के जिलाधिकारी चंद्रशेखर सिंह तथा वरीय पुलिस अधीक्षक राजीव मिश्रा उपस्थित थे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *